अंक : 01-15 Jan, 2018 (Year 21, Issue 01)

ब्रिटानिया मजदूरों का समझौता


Print Friendly and PDF

    ब्रिटानिया श्रमिक संघ द्वारा 1 मार्च 2017 को अपना मांग पत्र कम्पनी प्रबन्धन को दिया गया लेकिन कम्पनी प्रबन्धन द्वारा 4 माह तक मांग पत्र पर वार्ता करने हेतु यूनियन प्रतिनिधियों को बुलाया ही नहीं गया। जब यूनियन द्वारा 6 जुलाई से क्रमिक अनशन का नोटिस दिया तत्पश्चात प्रबन्धक वर्ग ने तत्काल बैठक कर लगातार बैठकें करनी प्रारम्भ कर दीं। कम्पनी में स्थापित दूसरी यूनियन से प्रबनधन वर्ग ने वार्ता भी नहीं करी। ब्रिटानिया श्रमिक संघ ने वार्षिक वेतन वृद्धि हेतु वार्ता के दौरान कई प्रकार से विरोध प्रदर्शन किया। कम्पनी में जो भी विरोध प्रदर्शन किये गये वह ब्रिटानिया श्रमिक संघ के निर्णय पर हुये। इन विरोध प्रदर्शनों में ब्रिटानिया कर्मकार यूनियन का कोई सहयोग नहीं मिला। दीपावली व दशहरा में प्लांट चलाने पर ब्रिटानिया श्रमिक संघ द्वारा पूर्णरूप से बहिष्कार किया गया। लेकिन दूसरी यूनियन के सदस्यों द्वारा प्लांट चलाया गया जिससे प्रबंधक वर्ग को बल मिल गया। लेकिन ब्रिटानिया श्रमिक संघ ने अपना प्रतीकात्मक विरोध प्रदर्शन जारी रखा। इस दौरान कम्पनी प्रबंधन से कई बार झड़पें भी हुईं यहां तक कि तत्काल कम्पनी बन्द करने की नौबत भी आ गयी थी। नौ माह के संघर्ष के दौरान ब्रिटानिया कर्मकार यूनियन का अध्यक्ष (जो बर्खास्त है) दिनेश चन्द्र जोशी कम्पनी गेट पर मिलने भी नहीं आये जो एक शर्मनाक बात है, जबकि 39 दिन के क्रमिक अनशन में ब्रिटानिया श्रमिक संघ के 17 कार्यकारिणी सदस्य व ब्रिटानिया कर्मकार यूनियन का एक सदस्य व कभी-कभी दो सदस्य बैठ रहे थे। इस दौरान ए.एल.सी. में भी वार्ता हुई व सभा हुई तब भी वह नदारद थे, अन्ततः इन मुद्दों पर समझौता हुआ।

    द्विवर्षीय वेतन वृद्धि  2017-18-19

1. प्रथम वर्ष सी.टी.सी. कुल वेतन वृद्धि-1700/रुपये,

2. द्वितीय वर्ष सी.टी.सी.कुल वेतन वृद्धि-1600/ रुपये,

3. प्रत्येक महीने 5 कर्मचारियों को बेसिक$डी.ए.का एडवांस दिया जायेगा।

4. केक प्लांट व बिस्कुट प्लांट के समस्त कर्मचारियों को पद नाम, पता दिये जायेंगे, (लगभग 70-75 कर्मचारी)

5. वर्ष 2018 में कम्पनी को 100 वर्ष पूर्ण होने पर समस्त कर्मचारियों को एक-एक शर्ट दी जायेगी। 

6. दिनांक 1 नवम्बर 2017 से 9 दिसम्बर 2017 तक क्रमिक अनशन पर बैठे समस्त कार्यकारिणी सदस्यों को पूरा वेतन दिया जायेगा। 

7. जिन कर्मचारियों को स्थायी नियुक्ति पत्र नहीं दिये गये हैं उन्हें स्थायी नियुक्ति पत्र दिये जायेंगे। 

8. कैन्टीन के भोजन के कूपन में अप्रैल 2018 से 3 रुपये की वृद्धि की जायेगी। 

9. इसके अतिरिक्त अन्य शर्तें मौखिक रूप से तय हुयी हैं।                                                                 - गणेश मेहरा,

                                                                                                                          अध्यक्ष ब्रिटानिया श्रमिक संघ

Labels: मजदूरों के पत्र


घोषणा

‘नागरिक’ में आप कैसे सहयोग कर सकते हैं?
-समाचार, लेख, फीचर, व्यंग्य, कविता आदि भेज कर क्लिक करें।

अन्य महत्वपूर्ण लिंक्स


हमें जॉइन करे अन्य कम्यूनिटि साइट्स में

घोषणा

‘नागरिक’ में आप कैसे सहयोग कर सकते हैं?
-समाचार, लेख, फीचर, व्यंग्य, कविता आदि भेज कर
-फैक्टरी में घटने वाली घटनाओं की रिपोर्ट भेज कर
-मजदूरों व अन्य नागरिकों के कार्य व जीवन परिस्थितियों पर फीचर भेजकर
-अपने अनुभवों से सम्बंधित पत्र भेज कर
-विभिन्न पत्र-पत्रिकाओं, बेबसाइट आदि से महत्वपूर्ण सामग्री भेज कर
-नागरिक में छपे लेखों पर प्रतिक्रिया व बेबाक आलोचना कर
-वार्षिक ग्राहक बनकर

पत्र व सभी सामग्री भेजने के लिए
सम्पादक
'नागरिक'
पोस्ट बाक्स न.-6
ई-मेल- nagriknews@gmail.com
बेबसाइट- www.enagrik.com
वितरण संबंधी जानकारी के लिए
मोबाइल न.-7500714375